सक्रिय दवाग्नि
उपग्रह आंकड़ा के प्रयोग से उत्तराखंड में सक्रिय दवाग्नि की निगरानी की जा रही है। उपग्रह आंकड़ा के प्रयोग से उत्तराखंड एवं हिमाचल प्रदेश के कई जिलों में अग्नि की घटना को दर्शाते हुए अग्नि चेतवनी जारी की गई।

शासन-व्यवस्था में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी का उपयोग : वन अनुप्रयोगों में नई सुविधा
एनआरएससी ने 08 फरवरी 2016 को वन अधिकारियों के लिए दावाग्नि के बारे में विशेष चर्चा के साथ सुदूर संवेदन आधारित वानिकी अनुप्रयोग पर विशेष बैठक का आयोजन किया। बैठक के दौरान एनआरएससी में एक दशक से चल रही उपग्रह आधारित दावाग्नि निगरानी गतिविधि के बारे में चर्चा की गई। बैठक डॉ. वी.के. डढ़वाल, निदेशक, एनआरएससी की अध्यक्षता और डॉ. रेखा पाई, वन महा-निरीक्षक - पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (एमओईएफ-सीसी) की सह-अध्यक्षता में की गई। आगे पढ़ें

Pages